Home > खबरें > आईपी विश्वविद्यालय में शोध कार्यशाला सम्पन्न

आईपी विश्वविद्यालय में शोध कार्यशाला सम्पन्न

प्रमाण पत्रों
समापन समारोह के दौरान प्रमाण पत्रों के साथ विभिन्न राज्यों से आए पीएचडी स्कॉलर व प्रोफेसर।
  • देशभर से आए शोध छात्रों ने लिया हिस्सा
  • समापन समारोह के मुख्य अतिथि रहे हालयम विश्वविद्यालय कोरिया के प्रो.शिन डोंग
प्रमाण पत्रों
बाएं से दिव्यानी, प्रो. शिन डोंग किम दक्षिण कोरिया हालयम विश्वविद्यालय, प्रोफेसर दुर्गेश तिवारी आईपी विवि., प्रोफेसर सचिन भारती आईपी विवि व प्रो.रमेश।

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्लीः इन्द्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के जन संचार विभाग व इंडियन काउंसिल ऑफ सोशल साइंस व रिसर्च के संयुक्त तत्वावधान में चल रही दस दिवसीय शोध कार्यशाला का शुक्रवार को समापन हो गया। कार्यशाला इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय में आय़ोजित हो रही थी।

समापन समारोह में मुख्य अतिथि हालयम विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शिन डोंग ने कहा कि शोध एक आवश्यक हिस्सा है। शोध से तमाम तरह की समस्याओं का समाधान किया जा सकता है। उन्होंने भारत की डिजिटल तकनीक में भी शोध की आवश्यक्ता बताई।

कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलपति अनिल कुमार त्यागी ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि शोध के दौरान शोधार्थी को शोध की मौलिकता के लिए गंभीर बने रहना चाहिए।डीन अनूप बेनीवाल ने भी छात्रों से अपील की कि वो शोध को लेकर पूरे मनोयोग से काम करें।

कार्यक्रम के अंत में शोध छात्रों को प्रमाणपत्र बांटे गए।

प्रोफेसर शिन डोंग
प्रोफेसर शिन डोंग के साथ विभिन्न राज्यों से आए शोध छात्र व प्रोफेसर।

इस दौरान कार्यशाला के संयोजक प्रो.दुर्गेश त्रिपाठी, प्रो. सचिन भारती व शोध छात्र दिव्यानी, रुचि सिंह, रुशा मुदगल, प्रियंका सचदेवा, दीपिका कश्यप, संतोष मिश्रा, अखिलेश उपाध्याय, अंकित दीक्षित, अब्दुल वहाब, प्रीती सिंह, शिशुपाल, उमेश पाठक, अनुराग कुमार पांडे, निशा थापर, राहुल आर्या, राजेश, मो.जिशान, श्रुथीश, इमैन्युअल, अजय वर्मा, आलोक झा, नेहा दुबे, मनीषा पंडित, यशवंत सिंह, नूर, रमेश शर्मा, अतुल उपाध्याय, नीलम नंदा, पियुष सिंह, मीत कोचर, संज्ञा पांडे आदि मौजूद रहे।

Share this: