Home > खबरें > भीड़ बढ़ी, बगैर साक्षात्कार दिए ही प्रसारभारती से लौटे लोग

भीड़ बढ़ी, बगैर साक्षात्कार दिए ही प्रसारभारती से लौटे लोग

प्रसार भारती के दिल्ली दफ्तर पहुंची भीड़ की तस्वीर। साभार फेसबुक
  • देशभर से दिल्ली पहुंचे छात्रों को हुई निराशा
दूरदर्शन की विज्ञप्ति पढे़
दूरदर्शन की विज्ञप्ति पढे़

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली।

प्रसार भारती ने कुछ दिन पहले विज्ञप्ति जारी करके अपने संस्थान में फ्रेशर्स के लिए वाक इन इंटरवियु  की सूचना जारी की थी। वाक इन इंटरवियू 4 जनवरी को होने थे। जिसके लिए देशभर में लोगों का जमावड़ा प्रसार भारती के दिल्ली दफ्तर में लगा।

उदयपुर से साक्षात्कार देने आए पत्रकारिता के एक छात्र ने मीडिया मिरर को बताया कि हजारों की संख्या में लोग पहुंचे थे। देशभर से लोग इंटरवियु देने आए थे। छात्र ने बताया कि प्रसार भारती के दफ्तर में जाने के लिए पहले पास बनवाना पड़ रहा था, जिसके लिए लम्बी लाइन लगी थी। जिन लोगों के पास जुगाड़ था उनके पास तो तुरंत बन गए। लेकिन जो बाहर से लोग आए थे उन्हें सिर्फ पास बनवाने के लिए ही काफी मशक्कत करनी पड़ी। छात्र ने बताया कि आज सिर्फ 40-45 लोगों के साक्षात्कार लिए गए। मुझे वहां बैठे अधिकारी ने कहा कि आपको हम 2 या 3 दिन बाद जैसी सिचुएशन होगी बताएंगे। क्योंकि आज भीड़ बहुत बढ़ गई है।

प्रसार भारती के दफ्तर आए लोगों का ये भी कहना था कि प्रसार भारती ने जो विज्ञाप्ति जारी की थी उसमें भी स्पष्ट तरीके से चीजों को नहीं रखा गया। जिससे लोगों में संदेह रहा। इतनी भयंकर सर्दी में दूर दूर से जो लोग प्रसार भारती में साक्षात्कार देने के लिए उनकी परेशानी के लिए कौन जिम्मेदार है। जबकि उन्हें बगैर साक्षात्कार दिए ही लौटा दिया गया।  बेरोजगारी का आलम देखिए कि 20 हजार की नौकरी के लिए दूर दूर से लोग यहां पहुंचे और प्रसार भारती की अव्यवस्था की एक बानगी देखिए कि वो साक्षात्कार भी आय़ोजित न करवा सका। लोगों को निराश होकर लौटना पड़ा।

Share this: