Home > खबरें > कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति का इस्तीफा

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति का इस्तीफा

डॉ मान सिंह परमार
डॉ मान सिंह परमार, हाल ही इस्तीफा देने वाले कुलपति
  • जब मुखिया बदलते हैं तो प्यादे भी बदलते हैं। तीन राज्यों राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में इसका असर सबसे पहले देखने को मिल रहा है। नई सरकारों के बाद ये दूसरा अवसर है जब किसी पत्रकारिता विवि के कुलपति को इस्तीफा देना पड़ा हो

नई दिल्ली, एजेंसी। 

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में चल रहे सियासी घमासान के बीच शनिवार देर रात कुलपति डा. मानसिंह परमार ने इस्तीफा दे दिया।

माना जा रहा है कि छत्तीसगढ़ में सरकार बदलने के बाद बने हालात और विश्वविद्यालय परिसर में कई दिन से चल रहे वैचारिक घमासान के कारण उन्होंने अपना इस्तीफा सौंपा है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को लिखे पत्र में उन्होंने इस्तीफे का कारण व्यक्तिगत बताया है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया था। एनएसयूआई का आरोप था कि विश्वविद्यालय में एक प्रोफेसर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं की बैठक ले रहा है।
हंगामा हिंसा में बदल गया था और कई लोगों को गंभीर चोट पहुंची थी। शनिवार को भी विश्वविद्यालय सियासत का अखाड़ा बना रहा। विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने वहां विरोध दर्ज कराया और हंगामा किया। मामला पुलिस तक पहुंचा था। थाने में शिकायत भी दर्ज कराई गई थी।
सूत्रों के मुताबिक विश्वविद्यालय के कुलपति डा. मानसिंह परमार काफी दिन से नए हालात में असहज महसूस कर रहे थे। साथ ही सरकार विश्वविद्यालय परिसर में राजनीतिक बैठक की खबर से नाराज भी थी। कहा जा रहा था कि मामले की रिपोर्ट मंगाई गई थी। इसी बीच अचानक शनिवार देर रात कुलपति ने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया।
Share this: