Home > खबरें > दूरदर्शन की कविता लिखी आलोक ने, आवाज दी अमिताभ बच्चन ने

दूरदर्शन की कविता लिखी आलोक ने, आवाज दी अमिताभ बच्चन ने

आलोक श्रीवास्तव
आलोक औऱ अमिताभ केबीसी के सेट पर

“मैं नये भारत का चेहरा हूँ”, अमिताभ की आवाज में दूरदर्शन की कविता रिलीज

नई दिल्ली।

15 सितंबर 2019 को दूरदर्शन की 60 वीं वर्षगाँठ पर सूचना-प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने दूरदर्शन की यात्रा पर लिखी एक विशेष कविता ‘मैं नये भारत का चेहरा हूँ’ रिलीज़ की। इस कविता को अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपनी आवाज़ दी है और कवि आलोक श्रीवास्तव ने लिखा है। आलोक श्रीवास्तव एक समय आजतक से जुड़े थे। अब गीतकार हैं। आलोक की रचनाओं को पहले भी अमिताभ आवाज दे चुके हैं। आलोक मध्यप्रदेश के विदिशा से आते हैं।

इस अवसर पर सूचना-प्रसारण मंत्रायल के सचिव अमित खरे, प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर वैम्पट्टी एवं दूरदर्शन की महानिदेशक सुप्रिया साहू सहित प्रसार भारती और सूचना-प्रसारण मंत्रालय अनेक वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

दूरदर्शन की 60 वीं वर्षगाँठ पर तैयार की गई इस विशेष कविता में दूरदर्शन की अब तक की पूरी यात्रा को बहुत सटीक व सुंदर तरह से शब्दबद्ध किया गया है।

इतिहास का मैं आईना हूँ
°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°
तहज़ीब का रंग सुनहरा हूँ

गंगा-जमुना मेरी आँखें

मैं नए भारत का चेहरा हूँ

मैं नए भारत का चेहरा हूँ
मैं कल भी था, मैं आज भी हूँ

मैं नव-युग का अंदाज़ भी हूँ

सारी दुनिया का घर मुझ में

इस मिट्टी का आदर मुझ में

मैं देशभक्त भी गहरा हूँ

मैं नए भारत का चेहरा हूँ

मैं बेटी की मुस्कान में हूँ

मैं नारी के सम्मान में हूँ

विज्ञान में और किसान में हूँ

हर वीर में और जवान में हूँ

मैं सीमाओं का पहरा हूँ

मैं नए भारत का चेहरा हूँ

अब चाँद पे पाँव जमाना है

सूरज से आँख मिलाना है

इक नया सवेरा लाना है

संकल्प नया दोहराना है

ना ठहरा था, ना ठहरा हूँ

मैं नए भारत का चेहरा हूँ

मैं नए भारत का चेहरा हूँ

दूरदर्शन और सूचना प्रसारण मंत्रालय की ओर से तैयार की गई इस विशेष कविता को मशहूर अभिनेता अमिताभ बच्चन ने ने अपनी आवाज़ दी है और कवि-गीतकार आलोक श्रीवास्तव (Aalok Shrivastav) ने लिखा है। इस विशेष-कविता का प्रसारण दूरदर्शन और आकाशवाणी के सभी केन्द्रों से किया जा रहा है। दूरदर्शन और सूचना-प्रसारण मंत्रायल ने कविता को सभी एफ़ एम रेडियो, मनोरंजन व न्यूज़ टीवी चैनलों, सोशल मीडिया और अन्य सभी संचार माध्यमों के लिए कॉपीराइट से मुक्त रखा है. ताकि अधिक से अधिक लोग इस गीत को सुन सकें और शेयर कर सकें और दूरदर्शन की यात्रा को जान सकें।
<साभार : लाइव हिन्दुस्तान न्यूज, 19 सितम्बर 2019>

Share this: