Home > खबरें > लोकस्वामी अखबार का दफ्तर में जमींदोज, मालिक पर एक लाख का ईनाम किया

लोकस्वामी अखबार का दफ्तर में जमींदोज, मालिक पर एक लाख का ईनाम किया

जीतू सोनी
यही हैं लोकस्वामी के स्वामी जीतू सोनी
  • फर्जीवाड़े की बात सामने आने के बाद प्रेस कॉम्प्लेक्स स्थित लोकस्वामी अखबार की बिल्डिंग पर कार्रवाई की गई
  • इसके पहले सोनी के निवास जग विला सहित दो बंगले और तीन होटलों पर नगर निगम बुलडोजर चला चुका है
  • लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी पर एक लाख का ईनाम पुलिस ने रखा

इंदौर ( दैनिक भास्कर की रिपोर्ट). नगर निगम और पुलिस-प्रशासन ने बुधवार को फरार जीतू सोनी की और प्रॉपर्टी को जमींदोज कर दिया। टीम ने प्रेस काॅम्पलेक्स स्थित लोकस्वामी अखबार के कार्यालय और उसके साथ बने अन्य कार्यालयों की बिल्डिंग को ढहा दिया। सुबह 6 बजे से दोपहर 11 बजे तक करीब 5 घंटे की कार्रवाई में निगम ने 32 हजार वर्ग फीट पर हुए करीब 24 हजार वर्ग फीट से ज्यादा का निर्माण तोड़ दिया। कार्रवाई के लिए सुबह 6 बजे पुलिस बल के साथ निगम की टीम मौके पर पहुंची। अंधेरा होने से कार्रवाई की शुरुआत लाइट की रोशनी में हुई, लेकिन परेशानी आई तो कार्रवाई रोककर उजाले कर इंतजार किया गया। तोड़फोड़ की कार्रवाई में चार पोकलेन, दो जेसीबी की मदद लेना पड़ी। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश के चर्चित हनीट्रैप मामले के आरोपी एक अधिकारी ने जीतू सोनी के खिलाफ जांच की शिकायत की थी, जीतू सोनी का अखबार धड़ाधड़ हनीट्रैप से जुड़ी खबरों को प्रकाशित कर रहा था।
प्रेस काम्पलेक्स में नंबर 23 और 24 प्लाट को लेकर रवींद्र पंडित ने एफआईआर दर्ज करवाई थी कि ये प्लाॅट उन्हें अलॉट हैं। जीतू और रवींद्र निगम ने धोखाधड़ी कर जमीन पर कब्जा कर निर्माण कर लिया। एक ऐसी ही शिकायत आईडीए ने भी रवींद्र निगम और जीतू सोनी पर कार्रवाई, जिसमें उसने गलत आरएनआई नंबर से फर्जीवाड़ा करने की शिकायत थी। 32 हजार वर्ग मीटर के इन दोनों प्लॉट में 24 हजार वर्ग फीट से ज्यादा का निर्माण तोड़ा गया। कार्रवाई में अधिकारियों के साथ ही 75 से ज्यादा निगमकर्मी और 150 से ज्यादा पुलिसकर्मी मौजूद थे।

मानव तस्करी में अब तक 42 गिरफ्तारी

पलासिया टीआई विनोद दीक्षित ने बताया कि नरेंद्र के अलावा युवतियों में से चार के पति समरेश मंडल, गौतम दास, दीपू बिस्वास और प्रभात घोष, बाउंसर ऋषि पांचाल, होटल के एक और मैनेजर नरेंद्र कांग को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। वहां से सभी को जेल भेज दिया। पुलिस मानव तस्करी केस में अब तक 42 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इसके पहले नगर निगम और पुलिस-प्रशासन ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए जीतू सोनी के दो बंगले और तीन होटल को ध्वस्त करने की कार्रवाई कर चुकी है।

अब तक इन प्रॉपर्टी पर कार्रवाई

5 दिसंबर काे पुलिस-प्रशासन और निगम की टीम ने संयुक्त कार्रवाई में 7 हजार वर्गफीट में बने घर ‘जग विला’, होटल माय होम, बेस्ट वेस्टर्न और ओ टू को ध्वस्त किया था। 9 दिसंबर को 2 हजार स्वे. फीट में बने शांतिकुज कॉलोनी स्थित बंगले को जमींदोज कर दिया था।

Share this: