Home > खबरें > सामना के प्रधान सम्पादक ने कंगना रनौत को कहा हरामखोर

सामना के प्रधान सम्पादक ने कंगना रनौत को कहा हरामखोर

कंगना रानाउत

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली।

शिवसेना के मुखपत्र व मराठी अखबार सामना के कार्यकारी प्रधान सम्पादक संजय राउत ने अभिनेत्री कंगना रनौत को हरामखोर कहा है। उन्होंने एक निजी चैनल से बातचीत करते हुए कहा कि ये लड़की हरामखोर है। जिसको महाराष्ट्र में रहने से डर लगता है, जो लगातार महाराष्ट्र, मराठियों, शिवाजी की आलोचना कर रही है। उसके बारे में मीडिया कुछ नहीं कहता।

गौरतलब है कि सुशांत मामले में कंगना रनौत सुशांत के पक्ष में शुरू से ही हैं और सार्वजनिक तौर पर बयानबाजी कर रही हैं। कंगना ने हाल ही में कहा था कि महाराष्ट्र उन्हें पीओके लग रहा है, कंगना के इस बयान के बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने कहा था कि ऐसे लोगों को यहां रहने का अधिकार नहीं। कंगना और महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार की आजकल ठनी हुई है। इसी बीच केंद्र सरकार ने कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा मुहैय्या करवाई गई है।

हालांकि संजय राउत के बयान ने जब तूल पकड़ा तो संजय राउत ने सफाई देते हुए आज प्रेस को कहा है कि हरामखोर का मतलब है नॉटी गर्ल। कंगना नॉटी गर्ल हैं। बताते चलें कि संजय कमाल के लेखक हैं। हाल ही में आई ठाकरे फिल्म के स्क्रिप्ट रायटर भी वही थे। संजय राउत मुंबई के स्थानीय अखबार में क्राइम रिपोर्टर रहे हैं, इसी दौरान वो राजनीति कवर करने लगे औऱ राज ठाकरे के खास बन गए हैं। औऱ ऐसे उनका शिवसेना में प्रवेश हुआ। लम्बे अरसे से वो राज्यसभा सांसद भी हैं।

Share this: