Home > खबरें > लखीमपुर कांडः जब परिजनों ने पत्रकार का शव रखकर प्रदर्शन किया, तब मदद की घोषणा

लखीमपुर कांडः जब परिजनों ने पत्रकार का शव रखकर प्रदर्शन किया, तब मदद की घोषणा

रमन कश्यप

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली

लखीमपुर उत्तरप्रदेश में हुई हिंसक झड़प में एक पत्रकार की भी मौत हो गई थी। एक स्थानीय टीवी चैनल से जुड़े पत्रकार रमन कश्यप की घटना स्थल से अस्पताल ले जाते मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि भाजपा नेताओं ने उस पर गोली भी चलाई थी। पूरे घटनाक्रम के बाद शेष मृतकों के आश्रितों को तो 45 लाख देने औऱ परिवार में किसी एक को सरकारी नौकरी की योगी सरकार ने घोषणा कर दी थी, लेकिन पत्रकार की मौत पर कोई मदद की बात सरकार या प्रशासन ने नहीं की थी।

इस पूरे मामले में पत्रकारों ने सोशल मीडिया में विरोध दर्ज कराना शुरू किया  और अंततः जब बात नहीं बनी तो पत्रकार के परिजनों ने शव रखकर निघासन चौराहे पर जाम लगा दिया तब योगी सरकार ने शेष मृतकों की तरह ही पत्रकार के आश्रित को 45 लाख देने व परिवार में किसी एक को सरकारी नौकरी देने की बात कही है।

जानकारी के अनुसार प्रदर्शन कारियों ने पत्रकार को पीट पीटकर मार डाला और शव पास खेत में डाल दिया था।

Share this: