अर्नब गोस्वामी

सुनंदा पुष्कर मामलाः हाईकोर्ट बोला, अर्नब गोस्वामी संयम बरतें

प्रेस को ऐसे मामलों में सावधानी से काम करना चाहिए जिनमें जांच या ट्रायल चल रहा हो। लोगों को पहले क्रिमिनल ट्रायल का कोर्स करना चाहिए और फिर पत्रकारिता में जाना चाहिए। नई दिल्ली दिल्ली हाई कोर्ट ने गुरुवार को अर्नब गोस्वामी से कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के केस में समानांतर जांच चलाने के लिए सवाल किया। कोर्ट ने अर्नब को निर्देश दिया कि वह संयम बरतें और मामले को कवर करते हुए भाषा पर भी ध्यान दें। जस्टिस मुक्ता गुप्ता ने कहा कि कोर्ट यह नहीं कह रहा कि कोई मीडिया को चुप करा सकता है लेकिन जांच की 'शुद्धता' बनी रहनी चाहिए। उन्होंने यहां... Read more
राज्यसभा टीवी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी व प्रधान सम्पादक गुरदीप सिंह सप्पल

स्वराज चैनल बंद, कई पत्रकार बेरोजगार

मीडिय मिरर न्यूज, दिल्ली। दिल्ली बेस्ड स्वराज चैनल बंद हो गया है। मंगलवार को इसकी अधिकारिक घोषणा चैनल के प्रधान सम्पादक गुरदीप सिंह सप्पल ने की। उन्होंने कहा कि हमने बहुत कोशिश की चैनल चलाने की। पर हम अब ये घोषणा करते हैं कि चैनल आगे नहीं चला सकते। स्वराज चैनल की प्रबंध सम्पादक का दायित्व कांग्रेस नेता व मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की पत्नी व वरिष्ठ पत्रकार अमृता राय निभा रही थीं। चैनल बंद होने से कई पत्रकार बेरोजगार हो जाएंगे। मीडिया मिरर से बात करते हुए स्वराज चैनल के पत्रकार ने कहा कि बहुत दिनों पहले से ही हम लोगों को आशंका थी कि चैनल बंद... Read more
चांद साहब

चांद साब का जाना मध्यप्रदेश की पत्रकारिता में बहुत बड़ी क्षति

अलविदा ! चांद साब ------------------------ चांद साब का जाना मध्यप्रदेश की पत्रकारिता में बहुत बड़ी क्षति है । नए पत्रकार साथी शायद नहीं जानते होंगे कि वे आपातकाल, बिहार प्रेस बिल ,मानहानि विधेयक तथा अनेक अवसरों पर पत्रकारिता की रीढ़ बन कर उभरे थे ।वे चाहते तो देश में कहीं भी किसी भी पद पर अपनी एजेंसी में जा सकते थे ,लेकिन इंदौर के मोहपाश में वे ऐसे बंधे कि उससे निकल ही न सके ।एक ज़माना था ,जब चांद साब के एक इशारे पर मंत्री और मुख्यमंत्री नाचने लगते थे । मैं जब इंदौर में था तो वे मेरे एक वरिष्ठ दोस्त और बड़े भाई जैसे बन गए थे... Read more
सुदर्शन न्यूज

मुसलमानों को बदनाम करने वाले शो पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

सुप्रीम कोर्ट महसूस करता है कि इलेक्ट्रानिक मीडिया के नियमन की जरूरत है क्योंकि अधिकांश चैनल सिर्फ टीआरपी की दौड़ में लगे हैं और यह ज्यादा सनसनीखेज की ओर जा रहा है. नई दिल्ली:(भाषा)  सुप्रीम कोर्ट महसूस करता है कि इलेक्ट्रानिक मीडिया के नियमन की जरूरत है क्योंकि अधिकांश चैनल सिर्फ टीआरपी की दौड़ में लगे हैं और यह ज्यादा सनसनीखेज की ओर जा रहा है. दूसरी ओर, केन्द्र ने पत्रकारिता की स्वतंत्रता की हिमायत करते हुये मंगलवार को न्यायालय से कहा कि प्रेस को नियंत्रित करना किसी भी लोकतंत्र के लिये घातक होगा. न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति इन्दु मल्होत्रा और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने स्पष्ट... Read more

महादेवी वर्मा की कहानी “बिंदा”

भीत-सी आँखोंवाली उस दुर्बल, छोटी और अपने-आप ही सिमटी-सी बालिका पर दृष्टि डाल कर मैंने सामने बैठे सज्जन को, उनका भरा हुआ प्रवेशपत्र लौटाते हुए कहा - 'आपने आयु ठीक नहीं भरी है। ठीक कर दीजिए, नहीं तो पीछे कठिनाई पड़ेगी।' 'नहीं, यह तो गत आषाढ़ में चौदह की हो चुकी', सुनकर मैने कुछ विस्मित भाव से अपनी उस भावी विद्यार्थिनी को अच्छी तरह देखा, जो नौ वर्षीय बालिका की सरल चंचलता से शून्य थी और चौदह वर्षीय किशोरी के सलज्ज उत्साह से अपरिचित। उसकी माता के संबंध में मेरी जिज्ञासा स्वगत न रहकर स्पष्ट प्रश्न ही बन गई होगी, क्योंकि दूसरी ओर से कुछ कुंठित उत्तर मिला - 'मेरी... Read more
अंजू

साहित्यिक शनिवार में अंजू खरबंदा के संस्मरण

संस्मरण 1. बाबू मोशाय लम्बा ऊँचा गौर वर्णीय बंगाली लड़का। पान की गिलौरी मुँह में दबाए जब बोलता तो इतनी जल्दी-जल्दी बोलता कि आधी बात उसके मुँह में ही रह जाती । ;चटर्जी भैया धीरे बोलिए न ! आपकी आधी बात तो मुझे समझ ही नहीं आई ; मैं उनकी बात न समझ पाने पर अकसर शिकायत करती । मेरी बात सुनकर फिस्स से हँस पड़ते । जब वह हँसते तो उसके गालों में गड्ढे पड़ जाते। उनकी गहरी काली आँखों पर नजर जाती तो यूँ लगता मानो वह भी खिलखिलाकर हँस रही हों....सुंदर मोहक मनभावन हँसी । मेरी बात में शिकायत का लहजा पा वह अपनी बड़ी - बड़ी... Read more
चित्रा मुद्गल

कादंबिनी और नंदन बंद होना लज्जा की बातः चित्रा मुद्गल

जानी मानी लेखिका चित्रा मुदगल के विचार देश के करोड़ों-करोड़ों हिंदी बोलने, पढ़ने, लिखने वालों के होते हुए कादंबिनी और नंदन का बंद होना बेहद-बेहद लज्जा की बात है और विराट हिंदी पट्टी से आत्मविश्लेषण कि मांग करता है कि जो कुछ हुआ, वह क्यों हुआ और क्यों नहीं होना चाहिए था और इसके लिए क्या हिंदी पट्टी के अंतर्विरोधी हिंदी प्रेम को प्रश्नांकित नहीं किया जाना चाहिए ? इस प्रश्न को अनदेखा नहीं किया जा सकता कि व्यवस्थापक हिंदी विरोधी हो रहे हैं। उनकी दिलचस्पी उनके द्वारा प्रकाशित साहित्यिक हिंदी पत्र- पत्रिकाओं से उचट गयी है, या उचट रही है। इसके पूर्व इसी संस्थान से प्रकाशित साहित्य की अत्यंत... Read more
गुलाब कोठारी

प्रधानमंत्री ने किया राजस्थान पत्रिका के प्रधान सम्पादक के ग्रंथों का विमोचन

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को आभाषी तौर पर राजस्थान पत्रिका के प्रधान सम्पादक गुलाब कोठारी के दो ग्रंथ क्रमशः संवाद उपनिषद और अक्षर यात्रा का विमोचन किया। वर्चुअल समारोह में प्रधानमंत्री, राजस्थान के मुख्यमंत्री और राज्यपाल भी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अवसर पर कहा कि ये ग्रंथ भारतीय चिंतन की कड़ी के रूप में लोगों तक पहुंचेंगे। Read more

धेवती ने किया लेखक नाना की किताब का विमोचन

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली।  जाने माने लेखक, कथाकार व अनुवादक सुभाष नीरव के नए कविता संग्रह बिन पानी समंदर का बुधवार को दिल्ली में विमोचन किया गया। विमोचन उनकी प्यारी सी नन्ही धेवती सियोना ने किया। कविता संग्रह प्रलेक प्रकाशन से प्रकाशित हुआ है। कोरोना अवधि में जब सामूहिक कार्य़क्रमों पर रोक है। ऐसे में इस तरह अपनों के बीच कार्यक्रमों का होना जाना सुखद है। सियोना ने इस किताब को पढ़ने की भी अपील की है। कविता संग्रह की कुछ कविताएं आप इस लिंक पर जाकर पढ़ सकते हैं। जिसमें मीडिया मिरर ने पूर्व में प्रकाशित किया था। http://www.mediamirror.in/5410 Read more

“कंगना” बीजेपी पहन पाएगी?

त्वरित टिप्पणीः डॉ प्रशांत राजावत कंगना रनौत आजकल अभिनय से ज्यादा अपने बयानों के चलते सुर्खियों में रहती हैं। इसका मतलब है कि अभिनय पर अब उनका नया औतार हावी है। उनकी पिछली कुछ फिल्में भी चर्चित नहीं रहीं। जिनमें पंगा, जजमेंटल है क्या आदि रहीं।  उनके अभिनय की सुर्खियां नहीं बनतीं अब, उनके विवाद मीडिया में छाए रहते हैं। कंगना रनौत। कौन। हिमाचल की एक छोटे से जगह की खूबसूरत पहाड़ी लड़की, जिसके सपनों का हीरो ह्रितिक था और सपना बॉलीवुड में जगह बनाना। उन्होंने दोनों को ही पाया और शिद्दत से। लेकिन दोनों से ही उन्होंने बगावत भी खूब की। ह्रितिक को जीभर के प्यार किया तो खुले... Read more