media mirror

बीबीसी की महिला पत्रकार ने दी महिला नेताओं को नसीहत

बीबीसी हिंदी की ओर से हाल ही में दिल्ली में महिला नेताओं का एक सम्मेलन आयोजित किया गया था। उस सम्मेलन के संदर्भ में बीबीसी की पत्रकार सर्वप्रिया सांगवान की फेसबुक टिप्पणी। जो पब्लिक कार्यक्रमों में वक्ता के रूप में जाने वाले अतिथियों को जरूर पढ़ना चाहिए।    पत्रकारिता में मैं नेताओं के इंटर्व्यू लेने के लिए नहीं आयी थी और ना ही उनसे संबंध बनाने. हाँ, एक विनम्रता का संबंध तो होता ही है. इसलिए ही मैं ये पोस्ट लिखने की जुर्रत कर रही हूँ. हमारे समाज में या तो लड़कियाँ ख़ुद राजनीति में दिलचस्पी नहीं लेतीं या उन्हें इसके लायक समझा नहीं जाता. ये ज़ाहिर बात है. जो... Read more
नंदिनी सुंदर

द वायर के सम्पादक सिद्धार्थ वरदराजन की पत्नी को पुलिस ने दी क्लीन चिट

सुकमा। छत्तीसगढ़ पुलिस ने 2016 में सुकमा जिले में हुई एक हत्या के मामले में वामपंथी विचारधारा से जुडी दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की प्रोफेसर अर्चना प्रसाद सहित पांच अन्य लोगों को क्लीन चिट दे दी है। ये सभी पांचों लोग वामपंथी विचारधारा से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता हैं। स्थानीय अदालत में इन सभी के खिलाफ चल रहे मामले की सुनवाई के दौरान सोमवार को छत्तीसगढ़ पुलिस ने कबूल किया कि उनके पास कोई सबूत नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की सरकार में इन सभी पांच लोंगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। राज्य की नई कांग्रेस सरकार के इशारे पर की गई यह... Read more
माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय

माखनलाल विश्वविद्यालय के कुलपति चयन की प्रक्रिया शुरू

मीडिया मिरर न्यूज, दिल्ली। माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल के नियमित कुलपति की तलाश के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने तीन वरिष्ठ पत्रकारों को जिम्मेदारी सौंपी है। जिसमें उमेश त्रिवेदी, विजयदत्त श्रीधर एवं मनोज मनु, सहारा मीडिया से जुड़े हैं। इन तीन पत्रकारों की अनुशंसा के आधार पर ही विश्वविद्यालय में नया कुलपति मनोनीत होगा। फिलहाल कार्य़वाहक कुलपति के रूप में मध्यप्रदेश के जनसंपर्क आय़ुक्त पी.नरहरि कामकाज सम्हाल रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद माखनलाल विश्वविद्यालय के कुलपति जगदीश उपासने ने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद प्रदेश सरकार ने विश्वविद्यालय में हुई अनियमितताओं पर उच्चस्तरीय जांच बैठा दी थी, जोकि अभी चल रही हैं। जांच... Read more

इंदौर के वरिष्ठ पत्रकार महेंद्र बाफना की सड़क दुर्घटना में मौत

नई दिल्ली (अमर उजाला)ः इंदौर और मालवा अंचल के वरिष्ठ पत्रकार महेंद्र बाफना की सोमवार को एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई। वे 30 वर्षों में पत्रकारिता में सक्रिय थे और क्षेत्र के वरिष्ठ और अनुभवी क्राइम पत्रकारों में उनका नाम सबसे ऊपर था। बाफना इंदौर से प्रकाशित होने वाले एक सांध्य दैनिक में लंबे समय तक कार्यरत रह चुके हैं। बाफना अपने दोपहिया वाहन से जा रहे थे तभी पिपल्याना चौराहे के पास एक तेज रफ्तार वाहन ने उनको टक्कर मार दी, जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें तुरंत महाराजा यशवंत राव अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। लोकसभा... Read more
रवीश

हिन्दी के अख़बार हिन्दी के पाठकों की हत्या कर रहे हैं

ख़बर नहीं बस ख़बरों के नाम पर अख़बार छपता है, हिन्दुस्तान छपता है रवीश कुमार, एनडीटीवी गर्त इतना गहरा हो गया है कि बात में तल्ख़ी और सख़्ती की इजाज़त मांगता हूं। आप आज का हिन्दुस्तान अखबार देखिए। फिर इंडियन एक्सप्रेस देखिए। एक्सप्रेस का पहला पन्ना बताता है कि देश में कितना कुछ हुआ है। घटनाओं के साथ पत्रकारिता भी हुई है। एक्सप्रेस के पहले पन्ने की बड़ी ख़बर है कि भूपेन हज़ारिका के बेटे ने भारत रत्न लौटा दिया है। रफाल डील होने से दो हफ्ता पहले अनिल अंबानी ने फ्रांस के रक्षा अधिकारियों से मुलाकात की थी। हिन्दुस्तान का पहला पन्ना बताता है कि भारत में दो ही... Read more
रवीश कुमार

चैनल देखना बंद कर दें, ये चुनाव के नाम पर टाइम काट रहे हैं

रवीश कुमार, कार्य़कारी सम्पादक एनडीटीवी  मैं एक सामान्य दर्शक की तरह नहीं सोच पाता हूं। नहीं समझ पाता कि एक दर्शक का सामान्य होना क्या होता है। क्यों वह सतही और घटिया कंटेंट देखता है? क्या टीवी ने आपको इतना सामान्य बना दिया है कि आपको इस टीवी के कारण आपके भीतर और लोकतंत्र के भीतर आ रहे संकटों का अहसास ही नहीं होता है? आपके भीतर का ख़ालीपन और खोखलापन ही लोकत्तंत्र का ख़ालीपन और खोखलापन है। क्या आप कभी महसूस कर पाते हैं कि न्यूज़ चैनल किस तरह आपको सूचना विहीन बनाते जा रहे हैं। एक ही तरह के दृश्य बार-बार दिखाकर आपको दृश्यविहीन बनाते जा रहे हैं।... Read more
media mirror

मूर्तिशिल्पी राम सुतार मीरा कला सम्मान से सम्मानित

नई दिल्ली। 7 फरवरी 2019 को नोएडा में पद्मश्री,पद्मविभूषण मूर्तिशिल्पी आदरणीय राम सुतार को मीरा कला सम्मान से सम्मानित किया गया .उल्लेखनीय है कि मीरा कला न्यास इंदौर(मध्य प्रदेश) ने पिछले छब्बीस वर्षो से प्रदेश स्तर पर कलाकारों को सम्मानित करता रहा है.इसी वर्ष याने 2019 से ही राष्टीय स्तर पर "कला प्रेरणा स्त्रोत" सम्मान प्रारम्भ किया गया है जिस क्रम में पहले "कला प्रेरणा स्र्त्रोत"सम्मान से आदरणीय राम सुतार  को सम्मानित किया गया.इस सम्मान के तहत सम्मान राशि रूपये एक लाख रखी गयी है.कला जगत के लिये यह खुशी की बात है कि न्यास की संस्थापक विख्यात चित्रकार श्रीमती मीरा गुप्ता उन्हें यह सम्मान प्रदान करने स्वयं इन्दौर से... Read more
अर्नब गोस्वामी

शशि थरूर की शिकायत पर पत्रकार अर्नब गोस्वामी पर होगी FIR

मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट धमेन्द्र सिंह ने 21 जनवरी को दिये अपने आदेश में संबंधित एसएचओ को प्राथमिकी दर्ज करने और मामले की जांच करने के निर्देश दिये है नई दिल्ली (जी न्यूज) : दिल्ली की एक अदालत ने कांग्रेस नेता शशि थरूर की शिकायत पर समाचार चैनल रिपब्लिक टीवी और उसके संपादक अर्नब गोस्वामी के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिये हैं. शिकायत थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच से संबंधित गोपनीय दस्तावेजों की चोरी के आरोप से जुड़ी है. मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट धमेन्द्र सिंह ने 21 जनवरी को दिये अपने आदेश में संबंधित एसएचओ को प्राथमिकी दर्ज करने और मामले की जांच करने के निर्देश दिये है.... Read more
job

मीडिया में नौकरियां ही नौकरियां

Wanted: Smart, young people for MyNation English newsdesk who have a strong grasp on digital media, video scripts and the craft of editing copy/headlining. Ability to write on specific subject/s would be a plus. The position is in Delhi. Write to abhijitmajumder@asianetnews.in   नौकरी तलाश रहे पत्रकारों के लिए अच्छा मौका नौकरी तलाश रहे पत्रकारों के लिए अच्छी खबर है। दरअसल, एंटरटेनमेंट वेबसाइट ‘पिंकविला’ (www.pinkvilla.com) को अपनी हिंदी वेबसाइट ‘www.hindirush.com’ के लिए पत्रकारों की जरूरत है। बताया जाता है कि चीफ सब एडिटर, सीनियर सब एडिटर, कॉपी एडिटर और रिपोर्टर पदों के लिए 2 से 7 साल का अनुभव जरूरी है। इन पदों के लिए आवश्यक योग्यता के तहत आवेदक को हिंदी... Read more
हिंदु समूह के एन राम

एन राम को पत्रकारिता मत सिखाइए अब…

एडीटर अटैक - प्रशांत राजावत, सम्पादक मीडिया मिरर  इस बात को एकदम भूल जाइए कि एन राम यानि नरसिम्हन राम ने क्या छापा और क्यों चर्चा में हैं। सबसे पहले ये बात जान लीजिए कि एन राम उस अंग्रेजी दैनिक अखबार के सम्पादक हैं जो वर्जन नहीं छापता कि एसपी ने कहा है, या डीसी ने कहा है। बस इतना जान लीजिए हिंदू ने कहा बस इतना काफी होता है। हिंदू के रिपोर्टर ने लिख दिया वो लकीर हो गई पत्थर की। उसपर फिर किसी वर्जन की आवश्यक्ता नहीं होती। हिंदू के बारे ये प्रचिलित है। अब आइए एन राम पर। एन राम अभी बीजेपी वालों को चुभ सकते हैं... Read more