तस्वीर में काटजू और साईनाथ।

काटजू ने आज साईनाथ की तारीफ़ की तो वही लगे हाथ उनकी किताब पढ़ने की अनुशंसा कर डाली

प्रेस कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया के पूर्व प्रमुख मार्कंडेय काटजू बता रहे दिग्गज पत्रकार पी साईनाथ के बारे में -: पी साईनाथ द हिन्दू में ग्रामीण मामलों के सम्पादक हैं। निसंदेह आईएएस के तैयारी कर रहे लाखों करोड़ों छात्रों के अप्रत्यक्ष गुरू भी, क्योंकि ये छात्र पी साईनाथ के दीवाने हैं। आमतौर पर आलोचनाओं के लिए प्रसिद्ध काटजू ने आज साईनाथ की तारीफ़ की तो वही लगे हाथ उनकी किताब पढ़ने की अनुशंसा कर डाली। क्या बोले काटजू उन्ही के शब्दों में:- Honoured to meet the greatest journalist of India, P. Sainath, at the Stanford University, CA. In a profession in which most journalists are shamelessly sold out to corporates, and... Read more
अर्णब गोस्वामी

इतिहास रच दिया अर्णब ने: अजीत अंजुम

जब परस्पर विरोधी चैनल का पत्रकार तारीफ़ करे तो कुछ तो बात है। अर्णब गोस्वामी के बारे में इंडिया टीवी के सम्पादक अजीत अंजुम की बेबाक़ टिप्पणी:- You may love him or hate him, but you can't ignore him.....यही अर्णब है ...पहले ही हफ्ते की रेटिंग में सबको रौंद कर रख दिया ...सभी अंग्रेजी चैनल एक तरफ , रिपब्लिक एक तरफ ...चार चैनलों की रेटिंग को जोड़ दें तो भी अर्णब का चैनल आगे है.... 52 फीसदी चैनल शेयर के साथ लांचिंग के पहले ही सप्ताह में रिकार्डतोड़ रेटिंग के साथ नंबर वन होने का इतिहास रच दिया अर्णब ने ... जितनी गालियां उसके हिस्से है, उतनी ही तालियां .... Read more
कार्टूनिस्ट राजेन्द्र वर्मा

कार्टून प्रदर्शनी कुरुक्षेत्र में

कुरुक्षेत्र: 18 मई,2017 को कुरुक्षेत्र के धरोहर संग्रहालय में दैनिक भास्कर के कार्टूनिस्ट राजेन्द्र वर्मा की कार्टून प्रदर्शनी का उदघाटन केयू के कुलपति प्राे.कैलाश चंंद्र शर्मा ने किया। कार्टून देख कर उन्होने दिल खोल कर ठहाके लगाए। प्रदर्शनी 10 दिनों तक चलेगी। संग्रहालय के क्यूरेटर डॉ. महा सिंह पूनिया जी ने कड़ी मेहनत से सारी व्यवस्थाएं की। Read more
पंकज चतुर्वेदी

पंकज चतुर्वेदी को आज अनुपम मिश्र स्मृति पर्यावरण पुरस्कार

दिल्ली: राष्ट्रीय पुस्तक न्यास दिल्ली के सम्पादक पंकज चतुर्वेदी को आज अनुपम मिश्र स्मृति पर्यावरण पुरस्कार से नवाजा गया Read more
युवा अंग्रेजी लेखक अमिष

प्रधानमंत्री को भेंट की किताब

दिल्ली: युवा अंग्रेजी लेखक अमिष त्रिपाठी ने आज दिल्ली में प्रधानमंत्री से मुलाकात की और उन्हें अपनी नई किताब सीता की प्रति सौंपी। मुलाकात के बाद कुछ कह रहे हैं अमिष:- I had the honour of visiting the Prime Minister’s residence to present him a pre-release copy of my upcoming book, Sita - Warrior of Mithila. Narendra Modi ji was kind enough to spare some of his precious time to speak on many topics. We briefly discussed my books, especially the Ram Chandra Series (Scion of Ikshvaku & Sita – Warrior of Mithila). But even more enlightening were the discussions we had on other subjects. On Lord Nachiket and Lord... Read more
इंडिया टीवी मुम्बई की फ़िल्म रिपोर्टर चारुल मलिक

रिपोर्टर चारुल मलिक आज सिंगापूर रवाना

mumbai: इंडिया टीवी मुम्बई की फ़िल्म रिपोर्टर चारुल मलिक आज सिंगापूर रवाना हुई। खास बात ये रही की वो किसी सेलिब्रिटी की तरह फ़्लाइट की बिजनेस क्लास में स्पेशल अपार्टमेंट में गईं। तस्वीर मे देखिये उनका अपार्टमेंट। है न जलवा। Read more
महान कवि सुमित्रानंदन पंत

कवि सुमित्रानंदन पंत की जयन्ती

छायावाद के चार स्तंभो में एक महान कवि सुमित्रानंदन पंत की जयन्ती है।उनका जन्म आज ही की तिथि 20 मई,1900 को अल्मोड़ा जिले के कौसानी गाँव में हुआ।'ग्राम्या','गुंजन','लोकायतन','स्वर्णकिरण','चिदंबरा','युगांत', कला और बुढ़ा चाँद','सत्यकाम','पल्लव','उच्छवास' आदि उनकी महत्वपूर्ण कृतियाँ हैं।'ज्ञानपीठ पुरस्कार, साहित्य अकादमी पुरस्कार, पद्म भूषण आदि विभिन्न महत्वपूर्ण राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कारों से उन्हे समय-समय पर सम्मानित किया गया। उनकी जयन्ती पर उन्हे सादर स्मरण करते हुए प्रस्तुत है उनकी एक कविता-- जोतो हे कवि, निज प्रतिभा के फल से निष्ठुर मानव अंतर, चिर जीर्ण विगत की खाद डाल जन-भूमी बनाओ सम सुन्दर । बोओ, फिर जन मन में बोओ, ज्योति पंख नव बीज अमर, जग जीवन के अंकुर हँस हँस भू... Read more
प्रेस इंफोर्मेशन ब्यूरो

उनके मुंंह से अपने लिए ‘तुम’ नहीं सुना

यादें: अनुपम मिश्र प्रेस इंफोर्मेशन ब्यूरो दिल्ली में पदस्थ निवेदिता खांडेकर याद कर रही वरिष्ठ पर्यावरण लेखक अनुपम मिश्र व उनकी किताब आज भी खरे हैं तालाब को। कुछ संस्मरण। एक 'अनुपम' पर्व का अंत कल रात एक पत्रिका के लिए Urban Water Bodies पर एक लेख लिखना शुरू किया था | पानी पर कुछ लिखना हो और मैं अनुपम जी को quote ना करू, ऐसा होता ही नहीं कभी | पर मैं ठहरी रात 12 बजे के बाद काम करने वाली। और उस वक़्त उन्हें कॉल नहीं कर सकती थी | फिर क्या था ... इतनी बार उनके साथ हुई बातचीत में से मोती चुने और 'अनुपम जी ऐसा... Read more
एम एस स्वामीनाथ

’50 इयर्स ऑफ ग्रीन रिजोल्यूशन’ का विमोचन

दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में हरित क्रांति के 50 साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में पीसी केशवन द्वारा एम एस स्वामीनाथन पर लिखी किताब '50 इयर्स ऑफ ग्रीन रिजोल्यूशन' का विमोचन किया। Read more