मुख़्तार माई

इज्जत के नाम पर

किताब चर्चा: इज्जत के नाम पर लेखक: मुख़्तार माई अनुवादक: नीलाभ अश्क कबीर संजय बता रहे किताब के बारे में:- इज्जत के नाम पर। यह किताब आज ही खतम की है। पूरे समाज ने औरतों के साथ कैसी साजिशें रच रखी हैं। कैसे उन्हें बचपन से ही सवाल नहीं करने और जो कुछ हो रहा है, उसे बस स्वीकार कर लेने की ट्रेनिंग दी जाती है। सब कुछ बस बरदाश्त कर लो। कई बार तो यह भी लगेगा कि जैसे यह कोई दो अलग-अलग नसलों का मामला हो। जहां पर एक नसल, दूसरी को अपनी मनमर्जी से इस्तेमाल करती है। जाहिर है, इस्तेमाल करने वाले के ही अधिकार होते हैं।... Read more

मनोहर सिंह बने डीजेए के नए अध्यक्ष

दिल्ली: पीटीआई (भाषा) के मनोहर सिंह दिल्ली पत्रकार संघ के द्विवार्षिक चुनाव (2017-2019) में अध्यक्ष एवं आॅर्गेनाइजर के प्रमोद कुमार निर्विरोध महासचिव निर्वाचित हुए हैं। चुनाव अधिकारी, दधिबल यादव ने आज यहां नए पदाधिकारियों और नई कार्यकारिणी के निर्वाचन की घोषणा की। नेशनल यूनियन आॅफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष रासबिहारी और राष्ट्रीय महासचिव रतन दीक्षित ने नई टीम को शुभकामना देते हुए कहा है कि यह टीम दिल्ली में पत्रकारों के हितों की दिशा में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देगी। डीजेए के नए पदाधिकारियों के अनौपचारिक बैठक के दौरान करीब 200 पत्रकार मौजूद रहे। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार और आॅर्गेनाइजर के पूर्व संपादक डॉ. आर. बालाशंकर भी मौजूद रहे और... Read more
अर्णव गोस्वामी

अर्णव गोस्वामी की नई पारी

टाइम्स नाउ में एडीटर रहे अर्णव गोस्वामी नया चैनल रिपब्लिक ला रहे हैं new delhi: टाइम्स नाउ में एडीटर रहे अर्णव गोस्वामी नया चैनल रिपब्लिक ला रहे हैं। अर्णव अंग्रेजी पत्रकारिता का एक बड़ा नाम हैं। मुकेश अम्बानी से एकबार पूछा गया था की आप किस टीवी पत्रकार को सुनते हैं उन्होंने अर्णव का नाम बताया था। बहुत लोकप्रिय पत्रकार हैं। अर्णब हर समय आधुनिक हथियारों से लैस 22 कमाण्डो से घिरे होते हैं और 2 पीएसओ साथ होते हैं। अर्णब को पाक आतंकी संगठन से धमकी के बाद गृह मंत्रालय से y श्रेणी की सुरक्षा दी है। लेम्बोर्गिनी से चलते हैं। ये रुतबा है उनका। नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री... Read more
आत्मकथा

हाईकोर्ट की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश लीला सेठ की आत्मकथा

किताब चर्चा वरिष्ठ पत्रकार उमेश चतुर्वेदी की कलम से -----///---/ देश के किसी हाईकोर्ट की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश लीला सेठ नहीं रहीं..उन्होंने अपनी आत्मकथा लिखी थी, ऑन बैलेंस...जिसका घर और अदालत नाम से हिंदी अनुवाद प्रकाशित हुआ था। उसकी समीक्षा केे बहाने उनके व्यक्तित्व की पड़ताल करता एक आलेख मैंने लिखा था..श्रद्धांजलि स्वरूप वह आलेख फिर पेश है... http://mohallalive.com/…/umesh-chaturvedi-on-leila-seth-au…/ Read more
अर्णब।

अर्णब गोस्वामी के नेतृत्व में रिपब्लिक अंग्रेजी न्यूज़ चैनल का आगाज़

new delhi: कल अर्णब गोस्वामी के नेतृत्व में रिपब्लिक अंग्रेजी न्यूज़ चैनल का आगाज़ हुआ। एक बड़ी खबर के साथ चैनल पहले ही दिन छा गया। पहली तस्वीर में अपनी टीम से श्रीश्री रविशंकर को मिलवाते अर्णब। बताते चलें की रिपब्लिक ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ पार्टनरशिप की है। किसी भी चैनल को माइक्रोसॉफ्ट से मदद मिलना बड़ी बात है, अब इतना तो तय है अर्णब को आर्थिक समस्या नहीं आने वाली। Read more
लीक से हटकर

हिंदुस्तान के प्रधान सम्पादक शशि शेखर की किताब लीक से हटकर का लोकार्पण

आगरा: हिंदुस्तान के प्रधान सम्पादक शशि शेखर की किताब लीक से हटकर का लोकार्पण 6 मई को यूपी के राज्यपाल रामनायक ने आगरा में किया। इस दौरान टीवी पत्रकार दिबांग और हिंदुस्तान आगरा के सम्पादक अजय शुक्ला व अन्य मौजूद रहे Read more
सत्याग्रह डॉट कॉम के रिपोर्टर राहुल कोटियाल

कश्मीर डायरी: पहला भाग

सत्याग्रह डॉट कॉम के रिपोर्टर राहुल कोटियाल की कलम से। राहुल विशेष रिपोर्ट के लिए जाने जाते हैं। टिहरी से हैं। रामनाथ गोयनका अवार्ड विजेता हैं। कश्मीर से रिपोर्टिंग के कुछ अनकहे किस्से : करीब तीन घंटे कश्मीरी पंडितों से बातचीत के बाद हम 'पंडित कॉलोनी' से निकलने को थे कि मेरा दोस्त मुद्दसिर बोला, 'भाई, ये जो भी नमकीन-बिस्कुट-मिठाई हमारे सामने रखें हैं, पहले इन्हें ख़त्म करो.' मैंने उसकी तरफ उत्सुकता से देखा तो वह बोला, 'इनमें से कुछ भी अब पंडित जी के किचन में वापस नहीं जाएगा. फेंका जाएगा इसलिए बेहतर है कि हम ही निपटा के खत्म करें. बल्कि ये बर्तन भी अलग कर दिए जाएंगे... Read more
नीतू सिंह

ये अंदाज जुदा जुदा

लखनऊ: गांव कनेक्शन लखनऊ की रिपोर्टर नीतू सिंह के अख़बार में एक वर्ष पूरे होने पर सम्पादक नीलेश मिश्रा ने अनोखे अंदाज में सम्मान किया। बरगद के पेड़ के नीचे एक पत्ते का मुकुट नीतू को सम्मान स्वरूप पहनाया साथ ही।नीलेश ने एक पत्ते में शुभकामना सन्देश लिखकर नीतू को भेंट किया। हैं न अंदाज प्यारा। नीलेश देश में कहानी वक्ता के रूप में भी जाने जाते हैं। कुछ कह रही हैं नीतू:- एक वर्ष के सफर में गाँव कनेक्शन के अपने अनुभवी सहयोगी साथियों से हर दिन कुछ नया सीखने को मिला है...यहां पत्रकारिता जगत का एक ऐसा सशक्त मंच मिला...जहां हमे अपने मन से लिखने की आजादी है...नीलेश... Read more
By Shyama Dev Dhaka Bangladesh

ऐसी तस्वीरों में आसानी से फ्रेम सेट नहीं कर सकते

Photo of the day By Shyama Dev Dhaka Bangladesh फ़ोटो समीक्षा: लम्बी दूरी की तस्वीर खींचने के लिए जाने जाते हैं देव। अच्छे लेन्स का प्रयोग करते हैं। बहुत ही प्राकृतिक तस्वीर लेते हैं उसमे कोई बनावट न हो। ऐसी तस्वीरों के लिए आपको जबरदस्त फोटोग्राफी ज्ञान होना चाहिए। जूम आउट और जूम इन जैसी तकनीकों से ऐसी तस्वीरों में कोई लाभ नहीं। हो सकता है ये तस्वीर 500 से हजार गज के दायरे से खींची गई हो। ऐसी तस्वीरों को बेहतर बनाने में आप तकनीक का इस्तेमाल नहीं कर सकते। अगर सब्जेक्ट दूरी के चलते साफ नहीं है और आपने जूम का सहारा लिया पिक्सेल फट सकते हैं या... Read more
Cartoon of the day By Satish Acharya

बड़े कार्टूनिस्ट की ख़ूबी है जो कार्टून से विषय को जोड़ सके

Cartoon of the day By Satish Acharya कार्टून समीक्षा: सतीश क़ाबिल कार्टूनिस्ट हैं और यही एक बड़े कार्टूनिस्ट की ख़ूबी है जो कार्टून से विषय को जोड़ सके। ये कार्टून रंगहीन होता तो वो बात न होती साथ ही ये समतल कार्टून नहीं हैं पात्र तिरछे रेखा चित्र हैं ये बात तय करती है की आचार्य ने कैप्शन सोचते ही कार्टून का आधार तय किया। कार्टून कैरेक्टर को ज्यादा स्पेस नहीं मिला क्योंकि इस कार्टून की यही डिमांड थी। पूरा फोकस कार्टून पर है और कार्टून सब कुछ बोल रहा है कैप्शन न भी होता तो विषय समझना आसान है। स्टार रेटिंग: ✴✴✴✴✴/✴✴✴✴ Read more