daynamiteइंडिया इंटरनेशनल सेण्टर दिल्ली में डायनामाइट हिंदी न्यूज़ पोर्टल के शुभारम्भ समारोह में मीडिया मिरर के सम्पादक प्रशांत राजावत से देश में सुलभ शौचालय के जनक विन्देश्वर पाठक जी का परिचय कराते डायनामाइट न्यूज़ पोर्टल के प्रधान सम्पादक मनोज टिबड़ेवाल आकाश।

डायनामाइट हिंदी न्यूज़ पोर्टल का शुभारम्भ

delhi-इंडिया इंटरनेशनल सेण्टर दिल्ली में डायनामाइट हिंदी न्यूज़ पोर्टल के शुभारम्भ समारोह में मीडिया मिरर के सम्पादक प्रशांत राजावत से देश में सुलभ शौचालय के जनक विन्देश्वर पाठक जी का परिचय कराते डायनामाइट न्यूज़ पोर्टल के प्रधान सम्पादक मनोज टिबड़ेवाल आकाश। Read more
बरखा दत्त की बहन हैं ये

बरखा दत्त की बहन हैं ये

बहार दत्त, पूर्व पर्यावरण सम्पादक सीएनएन आईबीएन। जबरदस्त पशु प्रेमी हैं। क़ाबिल वीडियो जर्नलिस्ट हैं। पर्यावरण को क्या खूबी से कैमरे में कैद करती हैं। वाह। आनंद आ जाता है। और ये तो विदित ही है बरखा और बहार दोनों प्रख्यात पत्रकार प्रभा दत्त की बेटी हैं। Read more
योगी आदित्यनाथ

जानिए अपने लेखक को

योगी आदित्यनाथ सुर्ख़ियों में हैं। भारत के वृहद राज्य उत्तरप्रदेश के मुखिया जो ठहरे। लेकिन यहाँ हम एक राजनेता योगी की बात नहीं करेंगे। यहाँ बात होगी एक लेखक योगी की। कई किताबें लिखी हैं योगी ने यौगिक षटकर्म, हठयोग स्वरूप व् साधना, राजयोग स्वरूप व साधना और हिन्दू राष्ट्र नेपाल उनकी लिखी प्रमुख किताबें हैं। जल्द ही कुछ और किताबें उनकी आने वाली हैं। 3 घण्टे रोज पढ़ते हैं योगी अबतक जो सूचना है या कहें अधिकारिक सूचना यानि योगी मठ गोरखपुर से प्रकाशित पत्रिका योगवाणी के प्रबंध सम्पादक डॉ प्रदीप राव की माने तो योगी प्रतिदिन कम से कम 3 घण्टे पढ़ते हैं। हाँ अब मुख्यमंत्री हो गए... Read more
डॉ राम सिंह

यादें

कुमाऊँ विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर लक्ष्मण सिंह विष्ट याद कर रहे डॉ राम सिंह को। विष्ट जी नैनीताल रहते हैं, वरिष्ठ लेखक हैं। -----///--- आजकल इनकी बहुत याद आ रही है ======================== आप लोगों में से कुछ लोग उन्हें जरूर जानते होंगे. नाम तो सुना ही होगा. 17 जुलाई, 1937 को पिठौरागढ़ में जन्मे डॉ. राम सिंह की मेरे मन में अजीब-सी स्मृति है. (वो पिथौरागढ़ की वर्तनी ‘पिठौरागढ़’ लिखते थे और इसे ही शुद्ध मानते थे.) फ़रवरी 1970 में नैनीताल के डिग्री कॉलेज में जब मेरी पहली नियुक्ति हुई थी, उसी साल नवम्बर में लोकसेवा आयोग, उ. प्र. ने उन्हें मेरे स्थान पर नियुक्त करके भेजा और नौ महीनों... Read more
sushobhit

लेखक की भाषा ही उसकी “राष्‍ट्रीयता” है

_______________________________________________सुशोभित सक्तावत की कलम से, इंदौर रहते हैं। पत्रकार हैं, अभिनेत्री दीप्ति नवल की बॉयोग्राफी लिख रहे हैं। लेखक की भाषा ही उसकी "राष्‍ट्रीयता" होती है। तो "भाषांतर" को क्‍या उसका "विस्‍थापन" समझा जाए? शायद नहीं, क्योंकि लेखक की राष्ट्रीयता "उसकी भाषा" होती है, कोई "एक" भाषा नहीं, और "मातृभाषा" तो क़तई नहीं। चंद उदाहरणों से इसको समझें। योसेफ़ कॉनरॉड को अंग्रेज़ी का पहला आधुनिक उपन्‍यासकार माना जाता है। उनके सुगठित वाक्‍य विन्‍यास "लैक्सिकन प्रिसिशन" की मिसाल कहलाते हैं। बाद के सालों में अंग्रेज़ी के जो भी उल्‍लेखनीय "प्रोज़ स्‍टाइलिस्‍ट" हुए, वे सभी कॉनरॉड को अपना उस्‍ताद मानते हैं, चाहे वे फ़ॉकनर हों, नायपॉल हों, रूश्‍दी हों या ग्राहम ग्रीन... Read more
hilda

हिल्डा क्लेटन को सलाम

विश्वभर के फोटोग्राफरों के लिए मिसाल और प्रेरणा हैं हिल्डा क्लेटन। यूएस आर्मी में कॉम्बेट फोटोग्राफर हैं। मतलब युद्ध की फोटोग्राफी करती हैं। 4 वर्ष पहले अफगान युद्ध में फोटोग्राफी करते हुए विस्फोट से जान चली गई थी। जिस तस्वीर को लेते समय हिल्डा की जान चली गई वो आप देख सकते हैं। उनकी अंतिम तस्वीरें यूएस आर्मी ने उनके परिवार से इजाजत लेकर कल ही जारी की हैं और उन्हें श्रधांजलि दी। कितने खतरनाक क्षण हरदम होते हैं ऐसे फोटोग्राफर के पास, जिन्हें युद्ध की जीवंत तस्वीरें उतारना होता है। दरअसल कॉम्बेट फोटोग्राफर की तस्वीरों के वर्गीकरण और विश्लेषण के आधार पर युद्ध की भयवायता और मूल स्थिति का... Read more
करेला इश्क का

करेला इश्क का

नई किताब: करेला इश्क का लेखक: विजय विद्रोही, एबीपी न्यूज़ दिल्ली प्रकाशक: जागरनाट बुक्स लेखक बता रहे हैं किताब के बारे में:- निर्भया रेप केस पर आखिर फैसला आ ही गया . लेकिन क्या वास्तव में निर्भया को इंसाफ मिल गया है ....क्या इस रेप के बाद पुरुषों की मानसिकता बदली है .......मैंने इस केस की रिपोटिंग कर रही महिला रिपोर्टरों और टीवी न्यूज एंकरों से बात की . करीब बीस युवतियों से . यह सब वह थी जो रेप के समय भी रिपोर्टिंग या फिर एंकरिंगि कर रही थी और हत्यारों कों फांसी की सजा मिलने के समय भी रिपोर्टिंग या एंकरिंग कर रही थी . उन सबके सच्चे... Read more
चाचा चौधरी को रचने वाले प्राण शर्मा

जानिए अपने कार्टूनिस्ट को

चाचा चौधरी को रचने वाले प्राण शर्मा, जिनका 2014 में निधन हो गया। सरकार ने उन्हें पद्मश्री से भी सम्मानित किया था। उनकी अनकही दास्तान जल्द ही मीडिया मिरर पर Read more