साथी की ख़ूबी

यतीन्द्र मिश्र

और इस लड़के ने वे सभी गीत साध लिए थे: मालिनी अवस्थी

साथीकी ख़ूबी लोक गायिका मालिनी अवस्थी बता रहीं यतीन्द्र मिश्र के बारे में, यतीन्द्र की किताब लता सुर गाथा को सिनेमा की बेहतर किताब होने का पुरस्कार देने की घोषणा हाल में हुई हैं। यतीन्द्र अयोध्या में रहते हैं। मालिनी अवस्थी की नज़र में यतीन्द्र मिश्र:- बीस वर्ष पूर्व एक उत्साही तरुण से अयोध्या में भेंट हुई, मोहित, जिसे अब दुनिया यतीन्द्र मिश्र के नाम से जानती है। सामान्य परिचय समान रुचियों के कारण शीघ्र ही घनिष्ठता मे बदल गया। उम्र से कहीं अधिक परिपक्व अध्ययन-रत उस तरुण की साहित्य, संगीत कीगहरी पकड़ उसके उज्ज्वल भविष्य का संकेत देती थी। पारिवारिक संबंध सा बन गया, मुझे बहुत आदर के साथ... Read more
तस्वीर में काटजू और साईनाथ।

काटजू ने आज साईनाथ की तारीफ़ की तो वही लगे हाथ उनकी किताब पढ़ने की अनुशंसा कर डाली

प्रेस कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया के पूर्व प्रमुख मार्कंडेय काटजू बता रहे दिग्गज पत्रकार पी साईनाथ के बारे में -: पी साईनाथ द हिन्दू में ग्रामीण मामलों के सम्पादक हैं। निसंदेह आईएएस के तैयारी कर रहे लाखों करोड़ों छात्रों के अप्रत्यक्ष गुरू भी, क्योंकि ये छात्र पी साईनाथ के दीवाने हैं। आमतौर पर आलोचनाओं के लिए प्रसिद्ध काटजू ने आज साईनाथ की तारीफ़ की तो वही लगे हाथ उनकी किताब पढ़ने की अनुशंसा कर डाली। क्या बोले काटजू उन्ही के शब्दों में:- Honoured to meet the greatest journalist of India, P. Sainath, at the Stanford University, CA. In a profession in which most journalists are shamelessly sold out to corporates, and... Read more
अर्णब गोस्वामी

इतिहास रच दिया अर्णब ने: अजीत अंजुम

जब परस्पर विरोधी चैनल का पत्रकार तारीफ़ करे तो कुछ तो बात है। अर्णब गोस्वामी के बारे में इंडिया टीवी के सम्पादक अजीत अंजुम की बेबाक़ टिप्पणी:- You may love him or hate him, but you can't ignore him.....यही अर्णब है ...पहले ही हफ्ते की रेटिंग में सबको रौंद कर रख दिया ...सभी अंग्रेजी चैनल एक तरफ , रिपब्लिक एक तरफ ...चार चैनलों की रेटिंग को जोड़ दें तो भी अर्णब का चैनल आगे है.... 52 फीसदी चैनल शेयर के साथ लांचिंग के पहले ही सप्ताह में रिकार्डतोड़ रेटिंग के साथ नंबर वन होने का इतिहास रच दिया अर्णब ने ... जितनी गालियां उसके हिस्से है, उतनी ही तालियां .... Read more
रमेश भट्ट

उत्तराखंड से दिल्ली अपना इलाज कराने आए लोगों को रमेश खुद अस्पताल में भर्ती करवा कर आते थे

साथी की ख़ूबी न्यूज़ नेशन के डिप्टी एडीटर रमेश भट्ट जो अब उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री के मीडिया प्रमुख बन गए हैं, उनके बारे में बता रहे उनके न्यूज़ नेशन में सहयोगी रहे कमल वशिष्ठ। -----///--- रमेश भट्ट जी को मैं पिछले एक दशक से जानता हूं। हालांकि उनके साथ काम करने का सौभाग्य मुझे न्यूज़ नेशन में मिला। सरल स्वभाव, मृदुभाषी व्यतित्व के धनी रमेश जी के साथ मुझे देश विदेश की यात्राओं पर जाने का अवसर भी मिला। आज रमेश जी उत्तराखंड सरकार में मुख्यमंत्री के सलाहकार बन चुके हैं लेकिन दिल्ली में पत्रकारिता करते समय कभी भी ऐसा नहीं लगा कि रमेश उत्तराखंड से दूर हों। अपनी माटी... Read more