खबरें

मिर्जापुर / पत्रकार के समर्थन में उतरे अभिभावक, अपने बच्चों को नहीं भेजा स्कूल

क्लास में बैठा एक बच्चा। गुरुवार को विद्यालय पहुंचा सिर्फ एक बच्चा ग्रामीणों ने कहा- जब तक पत्रकार पर दर्ज एफआईआर वापस नहीं होगा, बच्चे नहीं जाएंगे स्कूल मिर्जापुर. मिड-डे-मील में नमक रोटी परोसे जाने का मामला उजागर करने वाले पत्रकार पर एफआईआर दर्ज होने के विरोध में ग्रामीण उतर आए हैं। ग्रामीणों ने गुरुवार को अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा। अभिभावकों का कहना है कि, जब तक मुकदमा वापस नहीं लिया जाता, विद्यालय का बहिष्कार जारी रहेगा। वहीं भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष चंद्रमौली कुमार प्रसाद ने पत्रकार के खिलाफ कार्रवाई का स्वत: संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार से मामले के तथ्य पर एक रिपोर्ट तलब की है। ये भी... Read more

डीएम ने कहा, प्रिंट पत्रकार होकर वीडियो क्यों बनाया?

एक पत्रकार ने मिड डे मील के दौरान नमक रोटी बच्चों को परोसने का वीडियो बनाया तो जिला प्रशासन ने व्यवस्था में तो कोई सुधार नहीं किया उल्टे पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। वाह भाई। अब  मिर्जापुर के ज़िला मजिस्ट्रेट अनुराग पटेल ने एफआईआर को सही ठहराते हुए कहा कि किसी स्टोरी को करने का यह कोई तरीका नहीं है. अगर वह प्रिंट पत्रकार हैं तो उन्हें तस्वीरें लेनी चाहिए थी, वीडियो क्यों बनाया. इसलिए हमें लगता है कि वह साजिश का हिस्सा हैं. पत्रकार पवन जायसवाल. नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर के जिला मजिस्ट्रेट ने जिले के एक स्कूल में बच्चों को रोटी और नमक परोसे जाने की रिपोर्टिंग... Read more
बीके कुठियाला

माखनलाल पत्रकारिता विवि के पूर्व कुलपति कुठियाला को राहत

ईओडब्ल्यू ने बीके कुठियाला समेत 20 आरोपियों पर एफआईआर दर्ज की है कुठियाला पर 45 करोड़ के घोटाले का आरोप है, भोपाल कोर्ट में अगली सुनवाई 23 सितंबर को होगी Dainik Bhaskar भोपाल. माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय घोटाले के मुख्य आरोपी पूर्व कुलपति बीके कुठियाला को भोपाल जिला कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने उनकी कुर्की की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। और ये तब तक रूकी रहेगी, जब तक सुप्रीम कोर्ट में लगी अग्रिम जमानत याचिका पर कोई फैसला नहीं आ जाता। मामले की अगली सुनवाई 23 सितंबर को होगी। माखनलाल विश्वविद्यालय में हुए घोटाले के मुख्य आरोपी बीके कुठियाला पर आरोप है कि उन्होंने कुलपति के पद पर रहते... Read more

मीड डे मील:पत्रकार की गिरफ्तारी पर PCI ने मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली (भाषा) भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) ने उत्तर प्रदेश में मिर्जापुर के एक स्कूल में बच्चों को मध्याह्न भोजन में ‘‘नमक-रोटी’’ परोसे जाने को उजागर करने वाले पत्रकार के खिलाफ एक मामला दर्ज किये जाने पर प्रदेश सरकार से एक रिपोर्ट मांगी है। पीसीआई के अध्यक्ष चंद्रमौली कुमार प्रसाद ने उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में मध्याह्न भोजन की रिपोर्टिंग करने को लेकर पत्रकार पवन जायसवाल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने किए जाने की खबरों पर चिंता प्रकट की है। पत्रकार के खिलाफ कार्रवाई का स्वत: संज्ञान लेते हुए पीसीआई ने राज्य सरकार से मामले के तथ्य पर एक रिपोर्ट तलब की है। पीसीआई ने एक बयान में कहा,... Read more

कामता मर्डर केस में पुलिस को कोर्ट की फटकार

-पत्नी और उनके कथित प्रेमी पर हत्या का आरोप -डीआईयू टीम कर रही थी मामले की जांच नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर थाना क्षे़त्र के चर्चित पत्रकार कामता सिंह मर्डर केस की दोबारा जांच होगी। जाचं में लापरवाही बरतने पर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की जमकर लताड़ लगाते हुए नए सिरे से जांच करने के आदेश दे दिए हैं। इस बार जांच डीसीपी की निगरानी में एसीपी और एसएचओ से कराई जाएगी। मामला पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर थाने का है। अभी तक जाचं पूर्वी दिल्ली के डीआईयू के हवाले थी जिसमें कोर्ट ने कई खामियां पाई। पुलिस कोर्ट द्वारा मांगे गए तथ्य पेश करने में... Read more

आज भी कबीर की धार मौजूद हैं – दार्शनिक विनोद मल्ल

  कबीर दत्ता की रिपोर्ट इंदौर से-  पिछले दिनों इंदौर के जाल सभागार में स्वरागिनी जन विकास समिति के तत्वाधान में बुद्ध व कबीर नये संदर्भ में नये तथ्यों के साथ विषय पर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया | कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन के साथ आरम्भ हुआ सर्व प्रथम स्वरागिनी संगीत संस्था द्वारा उनके छात्रो द्वारा कबीर के पदों की प्रस्तुती की गयी , इसके बाद सेमीनार की शुरुआत वरिष्ठ पत्रकार - सीनियर फोटोजर्नलिस्ट सुनील दत्ता ''कबीर द्वारा किया गया , विषय प्रवर्तन करते हुए सुनील दत्ता कबीर ने कहा किकबीर की आवाज कामगारों की आवाज थी कबीर जिस युग में आये उस जमाने में उन्होंने देखा कि पूरी... Read more
बीबीसी

श्रीनगर एयरपोर्ट पर मीडिया से बदसलूकी

विपक्षी दलों का डेलिगेशन शनिवार को श्रीनगर पहुंचा. एयरपोर्ट पहुंचने पर नेताओं और मीडिया को अलग कर दिया गया. मीडिया ने विपक्षी नेताओं से बातचीत करनी चाही तो पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी की. मौसमी सिंह नई दिल्ली, 24 अगस्त 2019, अपडेटेड 16:25 IST श्रीनगर एयरपोर्ट पर पत्रकारों से की गई बदसलूकी विपक्षी नेताओं के दौरे को कवर करने से रोका गया विपक्षी दलों का डेलिगेशन शनिवार को श्रीनगर पहुंचा. एयरपोर्ट पहुंचने पर नेताओं और मीडिया को अलग कर दिया गया. मीडिया ने विपक्षी नेताओं से बातचीत करनी चाही तो पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी की. आजतक की पत्रकार मौसमी सिंह के साथ धक्का-मुक्की की गई. उनके हाथ में चोट... Read more
रानू मंडल

गीतकार संतोष आनंद जूझ रहे आर्थिक तंगी से

जिस गीत-एक प्यार का नगमा है... को गाकर रानू मंडल की किस्मत बदली, उसके गीतकार संतोष आनंद गुमनामी में बेटी को गोद में लेकर लिखा था- ये गलिया ये चौबारा, यहां आना न दोबारा... दैनिक भास्कर से कहा- मैंने जो भोगा, उसमें से कुछ पल निकालकर गीतों में पिरोया जमशेदपुर (संजय प्रसाद). एक प्यार का नगमा है, मौजों की रवानी है... जिंदगी और कुछ भी नहीं, तेरी मेरी कहानी है... को गाकर स्टेशन पर भीख मांगने वाली रानू मंडल की किस्मत बदल गई, उस गीत को लिखने वाले मशहूर गीतकार संतोष आनंद आज गुमनानी के दौर में हैं। उन्हें अपनी जिंदगी चलाने के लिए छोटे-मोटे कवि सम्मेलनों से खर्च निकालने पड़ रहे हैं। सुरभि... Read more
गिरफ्तार आरोपी

फेक न्यूज फैलाने पर 4 पत्रकारों को अरेस्ट किया गया

भ्रामक खबरें लिखने के आरोप में 4 पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। एक आरोपी अभी फरार है। उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। कासना थाने में इनके खिलाफ केस दर्ज हुआ है। नोएडा (एनबीटी) भ्रामक खबरें लिखने के आरोप में 4 पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। एक आरोपी अभी फरार है। उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। कासना थाने में इनके खिलाफ केस दर्ज हुआ है। इस मामले में डीएम बीएन सिंह और एसएसपी वैभव कृष्ण ने शनिवार को डीएम के कैंप कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस मौके पर बताया गया कि पांचों पत्रकार पुलिस के खिलाफ भ्रामक... Read more
Anuradha-Bhasin

Kashmir Times editor moves Supreme Court seeking media freedom in Valley

The petition has demanded that the debilitating restrictions imposed through the complete shutdown on internet and telecommunication services besides severe curbs on the movement of journalists be immediately relaxed THE executive editor of the Kashmir Times has filed a writ petition in the Supreme Court seeking directions to ensure that the State creates an enabling environment for journalists and all other media personnel in all parts of Jammu and Kashmir to practise their profession. The petition has demanded that the debilitating restrictions imposed through the complete shutdown on internet and telecommunication services, and severe curbs on the movement of photo-journalists and reporters be immediately relaxed in order to ensure the freedom... Read more